Hindi stories at Pustak.org
लोगों की राय

कहानी संग्रह

हाथ तो उग ही आते हैं

श्यौराज सिंह बेचैन

मूल्य: Rs. 299

  आगे...

वैनिटी बैग

अभिषेक आनन्द

मूल्य: Rs. 500

वर्तमान सामाजिक स्थितियों की ऩई कहानियाँ

  आगे...

कामुकता का उत्सव

जयन्ती रंगनाथन

मूल्य: Rs. 399

  आगे...

एक परंपरा का अंत

नरेन्द्र

मूल्य: Rs. 40

बाल कथा

  आगे...

छुटकारा

बलदेव सिंह

मूल्य: Rs. 40

बाल कथा

  आगे...

प्रेरक कहानियाँ

डॉ. ओम प्रकाश विश्वकर्मा

मूल्य: Rs. 300

111 प्रेरक कहानियाँ

  आगे...

पलायन

वैभव कुमार सक्सेना

मूल्य: Rs. 150

गुजरात में कार्यरत एक बिहारी

  आगे...

समय 25 से 52 का

दीपक मालवीय

मूल्य: Rs. 240

युवकों हेतु मार्गदर्शिका

  आगे...

पंच रंग

जगतपाल शर्मा

मूल्य: Rs. 55

पंच रंग   आगे...

पंच-पंखुरी

बलदेव वंशी

मूल्य: Rs. 30

पंच-पंखुरी   आगे...

कहानी संकलन

सुषमा दुबे, राज कुमार

मूल्य: Rs. 40

कहानी संकलन   आगे...

कथा-सेतु

उमाशंकर तिवारी

मूल्य: Rs. 50

कथा-सेतु   आगे...

कथा-मंजरी

रामदरश मिश्र

मूल्य: Rs. 60

कथा-मंजरी   आगे...

गुरबचन सिंह भुल्लर की चुनिंदा कहानियाँ

अशोक जोन्धले

मूल्य: Rs. 75

गुरबचन सिंह भुल्लर की चुनिंदा कहानियाँ   आगे...

मेरी कहानियाँ : उषा प्रियंवदा

निर्मला जैन

मूल्य: Rs. 35

मेरी कहानियाँ : उषा प्रियंवदा   आगे...

कथा-कुंज

सरस्वती भल्ला

मूल्य: Rs. 40

कथा-कुंज   आगे...

कथा-सप्तक

जगतपाल शर्मा

मूल्य: Rs. 45

कथा-सप्तक   आगे...

कथा विहार

सुरेश कुमार जैन

मूल्य: Rs. 50

कथा विहार   आगे...

कथा-साल

कुमार कृष्ण

मूल्य: Rs. 25

कथा-साल   आगे...

हिंदी कहानी के अठारह कदम

बटरोही

मूल्य: Rs. 65

हिंदी कहानी के अठारह कदम   आगे...

हिन्दी की प्रतिनिधि कहानियाँ

कृष्ण रैना

मूल्य: Rs. 25

हिन्दी की प्रतिनिधि कहानियाँ   आगे...

कालजयी हिंदी कहानियाँ

रेखा सेठी, रेखा उप्रेती

मूल्य: Rs. 65

कालजयी हिंदी कहानियाँ   आगे...

दी सागा ऑफ़ रिक्शा (अंग्रेजी)

राजेन्द्र रवि

मूल्य: Rs. 325

दी सागा ऑफ़ रिक्शा (अंग्रेजी)   आगे...

बकरी

सर्वेश्वरदयाल सक्सेना

मूल्य: Rs. 95

बकरी   आगे...

यूटोपिया

वंदना राग

मूल्य: Rs. 295

सर्वाधिक चर्चित कहानी ‘यूटोपिया’ साम्प्रदायिकता जैसे नाज़ुक विषय को एक नए अन्दाज़ में उठाती है।

  आगे...

वक्त है एक ब्रेक का

राजेन्द्र यादव

मूल्य: Rs. 350

जनवरी 2007 में प्रकाशित ‘हंस’ के विशेषांक ‘ख़बर चैनलों में पहली बार’ के लिए विभिन्न अग्रणी चैनलों में काम कर रहे पत्रकारों ने अपनी आपबीती को आधार बनाकर ये कहानियाँ लिखी थीं।

  आगे...

वांग्चू

भीष्म साहनी

मूल्य: Rs. 350

वाङ्चू सुख्यात कथाकार भीष्म साहनी की ग्यारह कहानियों का संग्रह है।

  आगे...

आदमीनामा

काशीनाथ सिंह

मूल्य: Rs. 199

यह संकलन समकालीन कथा परिदृश्य में अपनी मौलिक एवं विशिष्ट पहचान दर्ज करता है।

  आगे...

तीसरी हथेली

राजी सेठ

मूल्य: Rs. 150

शब्द को जो एक विशिष्ट विलक्षण अस्तित्व राजी दे पाती हैं उसके प्रति एक सजग विस्मय का भाव पैदा होता है।

  आगे...

स्मृति गंध

वीणा सिन्हा

मूल्य: Rs. 150

अधिकतर कहानियों के कथा-कलन में बया के घोंसले जैसी संकुल और कलापूर्ण बुनावट है, जिसमें लेखिका इशारतन् एक साथ कई बातें कह देती है।   आगे...

शताब्दी से शेष

पंकज बिष्ट

मूल्य: Rs. 550

‘शताब्दी से शेष’ विशिष्ट कथाकार पंकज बिष्ट की चर्चित कहानियों का संग्रह है।   आगे...

शाहों का शाह

रिषार्ड कापुश्चिंस्की

मूल्य: Rs. 300

शाहों का शाह' ईरान में शाह के अन्तिम वर्षों का लेखा-जोखा है।   आगे...

सवार और दूसरी कहानियाँ

शम्सुर्रहमान फ़ारूक़ी

मूल्य: Rs. 600

सवार और दूसरी कहानियाँ’ शम्सुर्रहमान फ़ारूक़ी का पहला कहानी–संग्रह है। इस संग्रह की कहानियों का विषय 18वीं सदी की दिल्ली के माध्यम से उस समय की भारतीय संस्कृति है।

  आगे...

सानशोदायु

उनीता सच्चिदानंद

मूल्य: Rs. 95

ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य में रची गई ये कहानियाँ 'सूर्योदय के देश' के सामंती युग के विभिन्न पहलुओं से परिचित कराती हैं।   आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ: यशपाल

यशपाल

मूल्य: Rs. 150

प्रेमचंद की कथा-परंपरा को विकसित करनेवाले सुविख्यात कथाकार यशपाल के लिए साहित्य एक ऐसा शास्त्र था, जिससे उन्हें संस्कृति का पूरा युद्ध जितना था, और उन्होंने जीता।   आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ : उषा प्रियंवदा

उषा प्रियंवदा

मूल्य: Rs. 195

1952 से 1989 तक के कालखंड में फैली उषा प्रियम्वदा की कहानियों का अधिकांश साठ के दशक में उनके विदेश प्रवास के बाद आया है।

  आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ : रांगेय राघव

रांगेय राघव

मूल्य: Rs. 150

रांगेय राघव की कहानियों की विशेषता यह है कि उस पूरे समय की शायद ही कोई घटना हो जिसकी गूँजे-अनुगूंजें उनमें न सुनी जा सकें।

  आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ : राजकमल चौधरी

राजकमल चौधरी

मूल्य: Rs. 195

प्रस्तुत संकलन की कहानियाँ रोटी, सेक्स एवं सुरक्षा के जटिल व्याकरण से जूझते आम जनजीवन की त्रासदी की कथा कहती हैं।

  आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ : राजेंद्र यादव

राजेन्द्र यादव

मूल्य: Rs. 75

राजेंद्र यादव की कहानियां स्वाधीनता-बाद के विघटित हो रहे मानव-मूल्यों, स्त्री-पुरुष संबंधों, बदलती हुई सामाजिक और नैतिक परिस्थितियों तथा पैदा हो रही एक नयी विचार दृष्टि को रेखांकित करती हैं।

  आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ: राजेंद्र सिंह बेदी

राजेंद्र सिंह बेदी

मूल्य: Rs. 150

इस संग्रह में उनकी प्रायः सभी महत्त्वपूर्ण कहानियां शामिल हैं। इनसे जो सच्चाइयाँ उजागर हुई हैं, वे जिंदगी को मात्र जी लेने से नहीं, उसमें कुछ तलाशने से ही संभव हैं।   आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ : कुर्रतुल ऐन हैदर

कुर्रतुल ऐन हैदर

मूल्य: Rs. 195

क़ुर्रतुल ऐन हैदर की कहानियाँ प्रचलित प्रगतिशील कहानियों के मुक़ाबले नई शैली, नये माहौल और नई दुनिया को सामने लाती हैं।

  आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ: प्रेमचंद

प्रेमचंद

मूल्य: Rs. 195

सुप्रसिद्ध प्रगतिशील कथाकार भीष्म साहनी द्वारा चयनित ये कहानियां भारतीय समाज और उसके स्वाभाव के जिन विभिन्न मसलो को उठाती हैं, ‘आजादी’ के बावजूद वे आज और भी विकराल हो उठे हैं   आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ : फणीश्वरनाथ रेणु

फणीश्वरनाथ रेणु

मूल्य: Rs. 195

प्रेमचंद के बाद हिंदी कथा-साहित्य में रेणु उन थोड़े-से कथाकारों में अग्रगण्य हैं जिन्होंने भारतीय ग्रामीण जीवन का उसके सम्पूर्ण आंतरिक यथार्थ के साथ चित्रण किया है।

  आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ: मुक्तिबोध

गजानन माधव मुक्तिबोध

मूल्य: Rs. 60

मुक्तिबोध की कहानियाँ अखंड उदात्त आस्था के साथ आम आदमी को उसके भीतर छिपे इस सष्टा महामानव तक ले जाती हैं।   आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ : मृदुला गर्ग

मृदुला गर्ग

मूल्य: Rs. 150

मृदुला गर्ग की कहानियाँ पाठक के लिए इतना 'स्पेस' देती हैं कि आप लेखक को गाइड बना तिलिस्म में नहीं उतर सकते, इसे आपको अपने अनुसार ही हल करना पड़ता है।

  आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ : मोहन राकेश

मोहन राकेश

मूल्य: Rs. 195

इस संकलन में उनकी प्रायः सभी प्रतिनिधि कहानियां संग्रहीत हैं, जिनमें आधुनिक जीवन का कोई-न-कोई विशिष्ट पहलू उजागर हुआ है।

  आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ: मिथिलेश्वर

मिथिलेश्वर

मूल्य: Rs. 150

ये सभी कहानियाँ वर्तमान ग्रामीण जीवन के विभिन्न अन्तर्विरोधों को उद्‌घाटित करती हैं, जिससे पता चलता है कि आजादी के बाद ग्रामीण यथार्थ किस हद तक भयावह और जटिल हुआ है।   आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ: मन्नू भंडारी

मन्नू भंडारी

मूल्य: Rs. 150

मन्नू भंडारी की ये कहानियाँ कहानी-कला के अपने तकाजों और चुनौतियों से बेबाक भाषा में जूझती हुई सामाजिक सरोकार की भी कहानियाँ हैं और आज के अर्धसामन्ती-अर्धपूँजीवादी समाज में नारी के उभरते व्यक्तित्व, सम्बन्धों के बदलते स्वरूप और उसके संघर्षों को रेखांकित करती हैं।   आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ: ममता कालिया

ममता कलिया

मूल्य: Rs. 60

हिन्दी की सुपरिचित लेखिका ममता कालिया की कहानियों के इस संग्रह में शिक्षित मध्यवर्गीय नारी की आशाओं, आकांक्षाओं, संघर्षों और स्वप्नों का यथार्थपरक अंकन हुआ है।   आगे...

प्रतिनिधि कहानियाँ : खुशवंत सिंह

खुशवंत सिंह

मूल्य: Rs. 195

खुशवंत सिंह की कहानियों का संसार न तो सीमित है और न एकायामी, इसलिए ये कहानियां अपनी विषय-विविधता के लिए विशेष रूप से उल्लेखनीय हैं।

  आगे...

 

123Last › इस संग्रह में कुल 1226 पुस्तकें हैं|