Anand Harshul/आनंद हर्षुल
लोगों की राय

लेखक:

आनंद हर्षुल

जन्म : 23 जनवरी, 1959 को छत्तीसगढ़ के बगिया (रायगढ़) में हुआ।

शिक्षा : कानून तथा पत्रकारिता में स्नातक।

लेखन का प्रारम्भ कविता से। पहली कविता 1981 में और पहली कहानी 1984 में प्रकाशित हुई। इधर कई वर्षों से सिर्फ कथा लेखन। उनका पहला कहानी संग्रह बैठे हुए हाथी के भीतर लड़का 1997 में प्रकाशित हुआ। उसके बाद पृथ्वी को चन्द्रमा 2003 में। अधखाया फल (2009) उनकी कहानियों का तीसरा संग्रह है।

रेगिस्तान में झील उनकी कहानियों का चौथा संग्रह है, जिसमें प्रारम्भ से 2001 तक की कहानियाँ संकलित हैं।

सम्मान : बैठे हुए हाथी के भीतर लड़का के लिए, मध्यप्रदेश साहित्य परिषद का ‘सुभद्रा कुमारी चौहान’ पुरस्कार (1997) तथा पृथ्वी को चन्द्रमा के लिए ‘विजय वर्मा अखिल भारतीय कथा सम्मान’ (2003) से सम्मानित हैं।

उनकी कुछ कहानियों का मलयालम, उर्दू, पंजाबी तथा जर्मन भाषा में अनुवाद हुआ है।

ई-मेल: anand_harshul@gmail.com

अधखाया फल

आनंद हर्षुल

मूल्य: Rs. 150

अधखाया फल आनंद हर्षुल का तीसरा कहानी-संग्रह है...

  आगे...

चिड़िया बहनों का भाई

आनंद हर्षुल

मूल्य: Rs. 450

  आगे...

रेगिस्तान में झील

आनंद हर्षुल

मूल्य: Rs. 450

आनंद हर्षुल का रेगिस्तान में झील....

  आगे...

 

   3 पुस्तकें हैं|