Sachchidanand Sinha/सच्चिदानन्द सिन्हा
लोगों की राय

लेखक:

सच्चिदानन्द सिन्हा

सच्चिदानंद सिन्हा का जन्म 30 अगस्त,1928 को मुजफ्फरपुर जिले के साहेबगंज के परसौनी ग्राम में हुआ। आपका नाम देश के वरिष्ठ समाजवादी विचारकों में शुमार है। अपने छात्र जीवन में ही समाजवादी मूल्यों की राजनीति की तरफ आकृष्ट हुए। फिर, सोशलिस्ट पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता रहे। डॉ. लोहिया की पत्रिका मैनकाइंडके सम्पादक मंडल में भी रहे और बाद के दिनों में अपने मित्र किशन पटनायक की वैचारिक पत्रिका सामयिक वार्ताके सम्पादकीय सलाहकार रहे। आपने अंग्रेजी तथा हिन्दी में दर्जनों पुस्तकें लिखी हैं, जिनमें महत्त्वपूर्ण हैं : सोशलिज्म एंड पावर’, ‘कियोस एंड क्रिएशन’, ‘कास्ट सिस्टम : मिथ रियलिटी एंड चैलेंज’, ‘कोएलिशन इन पॉलिटिक्स’, ‘इमर्जेन्सी इन परस्पेक्टिव’, ‘इंटरनल कॉलोनी’, ‘दी बिटर हार्वेस्ट’, ‘सोशलिज्म : ए मैनिफेस्तो फॉर सरवाइवल’, ‘समाजवाद के बढ़ते चरण’, ‘वर्तमान विकास की सीमाएँ’, ‘पूंजीवाद का पतझड़’, ‘संस्कृति विमर्श’, ‘मानव सभ्यता और राष्ट्र-राज्य’, ‘संस्कृति और समाजवाद’, ‘पूँजी का चौथा अध्याय’, ‘भारतीय राष्ट्रीयता और साम्प्रदायिकताइत्यादि।

निवास स्थान : ग्राम व पोस्ट - मनिका, जिला - मुजफ्फरपुर (बिहार), पिन - 845431

रामजय प्रताप पेशे से वकील हैं। साथ ही, एक सक्रिय सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं। कला-संस्कृति, साहित्य व राजनीतिक विचार विषयक प्रकाशनों में इनकी गहरी अभिरुचि है और ऐसी चीजों का अनुवाद वह समय-समय पर करते रहते हैं। सच्चिदानंद सिन्हा की पाँच पुस्तकों का इन्होंने हिन्दी अनुवाद किया है और यह पुस्तक उन्हीं महत्त्वपूर्ण पुस्तकों में से एक है।

स्थायी पता : ग्राम व पोस्ट - चैता, जिला - पूर्वी चंपारण (बिहार), पिन-845414

आजादी के अपूर्व अनुभव

सच्चिदानन्द सिन्हा

मूल्य: Rs. 495

  आगे...

जाति व्यवस्था

सच्चिदानन्द सिन्हा

मूल्य: Rs. 195

इसमें जाति व्यवस्था से सम्बन्धित कुछ महत्त्वपूर्ण सिद्धान्तों की भी परीक्षा की गई है।

  आगे...

संस्कृति और समाजवाद

सच्चिदानन्द सिन्हा

मूल्य: Rs. 295

संस्कृति और समाजवाद   आगे...

 

   3 पुस्तकें हैं|