Sfurana Devi/स्फुरना देवी
लोगों की राय

लेखक:

स्फुरना देवी

अबलाओं का इन्साफ

स्फुरना देवी

मूल्य: Rs. 350

स्त्री-शिक्षा के अभाव और पितृसत्तात्मक व्यवस्था की गहरी पैठ के चलते, यह छटपटाहट हिन्दी साहित्य के इस दौर के इतिहास में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने से वंचित रह गई   आगे...

 

   1 पुस्तकें हैं|