मार्क्सवाद और भाषा का दर्शन - वी. एन. वोलोशिनोव Marxwad Aur Bhasha Ka Darshan - Hindi book by - V. N. Voloshinov
लोगों की राय

धर्म एवं दर्शन >> मार्क्सवाद और भाषा का दर्शन

मार्क्सवाद और भाषा का दर्शन

वी. एन. वोलोशिनोव

प्रकाशक : राजकमल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2003
पृष्ठ :220
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 14043
आईएसबीएन :8126704195

Like this Hindi book 0

1929 में प्रकाशित वी.एन. वोलोशिनोव की पुस्तक मार्क्सवाद और भाषा का दर्शन पहली ऐसी पुस्तक थी जिसमें भाषा-विज्ञान के कुछ प्रमुख आधारभूत प्रश्नों पर मार्क्सवादी विश्व-दृष्टिकोण और पद्धति से विचारकरने का प्रयास दिखाई देता है।

A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Undefined offset: 1

Filename: books/book_info.php

Line Number: 541

...पीछे |

<< पिछला पृष्ठ प्रथम पृष्ठ

लोगों की राय

No reviews for this book