प्रतिनिधि कहानियाँ : इस्मत चुग़ताई - इस्मत चुगताई Pratinidhi Kahaniyan : Ismat Chugtai - Hindi book by - Ismat Chugtai
लोगों की राय

कहानी संग्रह >> प्रतिनिधि कहानियाँ : इस्मत चुग़ताई

प्रतिनिधि कहानियाँ : इस्मत चुग़ताई

इस्मत चुगताई

प्रकाशक : राजकमल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2018
पृष्ठ :150
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 14167
आईएसबीएन :9788126715534

Like this Hindi book 0

ये कहानियाँ हमारी दुनिया और उसकी समाजी सच्चाइयों का ऐसा बयान हैं जिनकी कड़वाहट पर भरोसा किया जा सकता है।

उर्दू कथा-साहित्य में इस्मत चुग़ताई एक ऐसा नुमाया नाम है, जिसने साहित्य और साहित्य से बाहर हर तरह की रूढ़ परम्परा को नामंजूर किया। जिस दौर और जिस समाज से उनकी कलम का रिश्ता रहा है, एक महिला कथिाकार के नाते उसे अपनी शर्तों पर निबाह ले जाना बेहद मुश्किल काम था। इस संग्रह में चुग़ताई की चुनिंदा कहानियाँ शामिल हैं। ये कहानियाँ हमारी दुनिया और उसकी समाजी सच्चाइयों का ऐसा बयान हैं जिनकी कड़वाहट पर भरोसा किया जा सकता है। इनके माध्यम से हम आज की उस जद्दोजहद से वाबस्ता होते हैं जो इनसानी वजूद और इनसानियत के हक़ में सबसे ज़्यादा ज़रूरी है। आदमी द्वारा आदमी पर होनेवाला ज़ुल्म और ऐसे आदमी को पैदा करनेवाले निज़ाम की तीखी आलोचना इन कहानियों में पूरी कलात्मकता के साथ मौजूद हैं। यथार्थ की गहरी पकड़, नए अर्थ खोलती अछूती उपमाएँ, बेबकी-भरा व्यंग्यात्मक लहजा, चरित्रों का स्वाभाविक विकास और शब्दों का बेहद किफायती इस्तेमाल इस्मत चुग़ताई के रचनाकर्म की कुछ खास खूबियाँ हैं।

प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book