कविता पहचान का संकट - नन्दकिशोर नवल Kavita Pahchan ka Sankat - Hindi book by - Nand Kishore Naval
लोगों की राय

लेख-निबंध >> कविता पहचान का संकट

कविता पहचान का संकट

नन्दकिशोर नवल

प्रकाशक : भारतीय ज्ञानपीठ प्रकाशित वर्ष : 2006
पृष्ठ :309
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 2004
आईएसबीएन :81-263-1227-0

Like this Hindi book 4 पाठकों को प्रिय

303 पाठक हैं

वैसे तो पहचान के संकट की शिकार साहित्य की सभी विधाएँ है,लेकिन कविता की आलोचना में वह सर्वाधिक प्रत्यक्ष हैं।

A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Undefined offset: 1

Filename: books/book_info.php

Line Number: 541

...पीछे |

<< पिछला पृष्ठ प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book