Untisvin Dhara Ka Aaropi - Hindi book by - Mahashweta Devi - उन्तीसवीं धारा का आरोपी - महाश्वेता देवी
लोगों की राय

सामाजिक >> उन्तीसवीं धारा का आरोपी

उन्तीसवीं धारा का आरोपी

महाश्वेता देवी

प्रकाशक : राधाकृष्ण प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2004
पृष्ठ :88
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 2744
आईएसबीएन :81-7119-886-4

Like this Hindi book 8 पाठकों को प्रिय

191 पाठक हैं

इस पुस्तक में अन्तर्विरोधी कर्तव्यों के आपसी द्वन्द्व और समाज के निचले तबके की दारूण जीवन स्थितियों का वर्णन किया गया है.....

A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Undefined offset: 1

Filename: books/book_info.php

Line Number: 541

...पीछे |

<< पिछला पृष्ठ प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book