कुमारसंभव - कालिदास Kumarsambhav - Hindi book by - Kalidas
लोगों की राय

नाटक-एकाँकी >> कुमारसंभव

कुमारसंभव

कालिदास

प्रकाशक : राजपाल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2014
पृष्ठ :120
मुखपृष्ठ : पेपरबैक
पुस्तक क्रमांक : 6176
आईएसबीएन :9788170287728

Like this Hindi book 1 पाठकों को प्रिय

340 पाठक हैं

कुमारसंभव

Kumarsambhav A Hindi Book by Kalidas

संस्कृत के सर्वश्रेष्ठ कवि कालिदास ने ‘कुमारसंभव’ महाकाव्य में श्रृंगार-सौन्दर्य का जैसा वर्णन किया है वैसा अन्यत्र दुर्लभ है। ‘उपमा कालिदासस्य’ तो प्रसिद्ध ही है कि आज तक कोई कवि कालिदास जैसी उपमा नहीं दे सका। ‘कुमारसंभव’ में कालिदास ने शिव-पार्वती के अंतरंग क्षणों का ऐसा जीवन्त सौन्दर्य-चित्रण किया जो संस्कृत साहित्य में अनुपम है।

‘कुमारसंभव’ संस्कृत साहित्य की गौरवपूर्ण कृतियों में एक उल्लेखनीय महाकाव्य है जिसको पढ़ते समय पाठक उसी में रम जाता है।


प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book