कच्चे रेशम सी लड़की - अमृता प्रीतम Kachche Resham si Ladki - Hindi book by - Amrita Pritam
लोगों की राय

कहानी संग्रह >> कच्चे रेशम सी लड़की

कच्चे रेशम सी लड़की

अमृता प्रीतम

प्रकाशक : किताबघर प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2009
पृष्ठ :184
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 7399
आईएसबीएन :81-7016-038-3

Like this Hindi book 4 पाठकों को प्रिय

163 पाठक हैं

कहानी संग्रह

Kachche Resham si Ladki - A Hindi Book by - Amrita Pritam

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

मेरे लिए ज़िन्दगी एक बहुत लम्बी यात्रा का नाम है
जड़ से लेकर चेतन तक की यात्रा का नाम
अक्षर से लेकर अर्थ तक की यात्रा का नाम
और हकीकत जो है - वहाँ से लेकर
हकीकत जो होना चाहिए -
उसकी कल्पना और उसमें एतकाद रख पाने की यात्रा का नाम
इसलिए कह सकती हूँ
कि मेरी कहानियों में जो भी किरदार हैं
वह सभी किरदार ज़िन्दगी से लिए हुए हैं।
लेकिन वह लोग -
जो यथार्थ और यथार्थ का फासला तय करना जानते हैं।
अमृता प्रीतम

लेखक के बारे में

जन्म : 31 अगस्त, 1919, स्थान : गुजराँवाला (अब पाकिस्तान में)
बचपन और शिक्षा : लाहौर में
अब तक प्रकाशित पुस्तकें : 80 के लगभग(काव्य संग्रह, कहानी संग्रह, उपन्यास, निबन्ध-संग्रह और आत्मकथा) कुछ पुस्तकें संसार की 34 भाषाओं में अनूदित
साहित्य अकादेमी पुरस्कार : 1956 में
पद्मश्री उपाधि : 1969 में
दिल्ली विश्वविद्यालय से डी. लिट्. की उपाधि : 1973 में
वाप्तसारोव बुलगारिया पुरस्कार : 1979 में
भारतीय ज्ञानपीठ पुरस्कार : 1982 में
जबलपुर विश्वविद्यालय से डी. लिट्. की उपाधि : 1983 में
राज्यसभा में मनोनीत सांसद : 1986 में
पंजाब विश्वविद्यालय से डी. लिट्. की उपाधि : 1987 में
फ्रांस सरकार से उपाधि : 1987 में
एस. एन. डी. टी. विश्वविद्यालय, बंबई से डी. लिट्. की उपाधि : 1989 में
पंजाबी मासिक ‘नागमणि’ का संपादन : 1966 से
एक उपन्यास पर आधारित फिल्म : कादम्बरी
कुछ उपन्यासों पर आधारित टी. वी. सीरियल : ज़िंदगी
यात्रा : सोवियत संघ, बुलगारिया, युगोस्लाविया, चेकोस्लाविया, हंगरी, मॉरीशस, इंग्लैंड, फ्रांस, नार्वे और जर्मनी
स्मृति शेष : 31 अक्टूबर, 2005


प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book