चतुरी चमार - सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला Chaturi Chamar - Hindi book by - Suryakant Tripathi Nirala
लोगों की राय

कहानी संग्रह >> चतुरी चमार

चतुरी चमार

सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला

प्रकाशक : राजकमल प्रकाशन प्रकाशित वर्ष : 2018
पृष्ठ :78
मुखपृष्ठ : सजिल्द
पुस्तक क्रमांक : 8213
आईएसबीएन :9788171789023

Like this Hindi book 9 पाठकों को प्रिय

125 पाठक हैं

चतुरी चमार... Stories

Chaturi Chamar - A Hindi Book by Suryakant Tripathi Nirala

प्रस्तुत हैं पुस्तक के कुछ अंश

चतुरी चमार चतुरी चमार में निराला ने विषयवस्तु के अनुरूप ही कहानी का नया रूप आविष्कृत किया है। वे कई बार संस्मरणात्मक ढंग से अपनी बात कहते हैं और अन्त में अपनी कूची के एक स्पर्श से संस्मरण को कहानी में बदल देते हैं। इन कहानियों में उनका गद्य अनावश्यक साज-सँवार से मुक्त होकर नई दीप्ति के साथ सामने आया है। इसमें जितना कसाव है, उतना ही पैनापन भी। इस कहानी-संग्रह में हास्य के कल-कल के नीचे प्रायः करुणा और आक्रोश की धारा बहती रहती है। संक्षेप में कहें तो निराला के विद्रोही तेवर और गलत सामाजिक मान्यताओं पर उनके तीखे प्रहारों ने इस छोटे से संग्रह को हिन्दी साहित्य में बेमिसाल बना दिया है।

प्रथम पृष्ठ

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book